‘Saubhagya Yojana’ Free Electricity Connection | Registration

PM Narendra Modi launched the Sahaj Bijli Har Ghar Yojana ‘Saubhagya Yojana/सौभाग्य योजना’ for the poor and to provide power to all families in India. गरीब तबके के लोगों के लिए बिजली कनेक्शन मुफ्त में दिया जाएगा. PM also inaugurated the Deendayal Urja Bhawan on the birth anniversary of Pandit Deendayal Upadhyaya during a programme in New Delhi Saubhagya Yojana and inaugurated the Deendayal Urja Bhavan in New Delhi on 25th- Sep-2017. The launch of ‘Saubhagya – Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana’ is a big step towards BJP’s ‘power-for-all’ target.

Launching the Sahaj Bijli Har Ghar Yojana, PM Modi said that  the Yojana is aimed to provide power to gour crore household crore families who don’t have electricity in their home. He further said that no fee will be charged for the electricity connection for the poor and the scheme would be highlighting his government’s commitment towards uplifting the underprivileged section.

Scheme : Saubhagya Yojana

Launched By : Pradhanmantri Narendra Modi

Launch Date : 25th-Sep-2017

सौभाग्य योजना :

पीएम मोदी ने कहा कि इस योजना में 16320 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. शहर और गांवों के गरीबों को ‘सौभाग्य योजना’ का फायदा मिलेगा.

ग्रामीण इलाकों में खर्च होंगे 14 हजार करोड़:

ग्रामीण इलाकों में इस योजना पर 14025 करोड़ खर्च होंगे. वहीं, शहरी आवास में 1732 करोड़ रुपए खर्च होंगे. इससे शहर और गांव के गरीब लोगों को फायदा होगा. योजना के तहत सरकार पांच साल तक बिलजी की मरम्मत का खर्च उठाएगी.

Benefit Holder of Pradhanmantri Sahaj Bijli Har Ghar Saubhagya Scheme:

  • बिहार
  • उत्तर प्रदेश
  • मध्य प्रदेश
  • ओडिशा
  • झारखंड
  • जम्मू एवं कश्मीर
  • पूर्वोत्तर राज्य और राजस्थान के हर घर में बिजली पहुंचाई जाएगी.

What is Saubhagya Yojana :

  • गरीब तबके के लोगों के लिए बिजली कनेक्शन मुफ्त में दिया जाएगा. इसके लिए लाभार्थियों का पहचान सामाजिक आर्थिक और 2011 की जाति जनगणना के आकड़ों के मुताबिक की जाएगी.
  • इस योजना के तहत बिजली कनेक्शन के साथ हर घर को पांच एलईडी लाइट, एक पंखा और एक बैटरी दी जाएगी.
  • सौभाग्य योजना के तहत’ तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी मिलेगी.
  • केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगी.
  • अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी.
  • इसके अलावा बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार एनटीपीसी की क्षमता को बढ़ाने पर जोर दे रही है.
  • राज्य सरकारों की बिजली मांग को पूरा करने के लिए सरकार पावर पर्चेज अग्रीमेंट्स को बढ़ावा देने पर विचार कर रही है

Download Here

बैट्री बैंक भी देगी मोदी सरकार:

सौभाग्य योजना के तहत सुदूर व दुर्गम क्षेत्रों में बिजली से वंचित आवासों को मोदी सरकार बैट्री बैंक उपलब्ध कराएगी।

  • इसमें 200 से 300 डब्ल्यूपी का सोलर पावर पैक है, जिसमें पांच एलईडी लाइटें, एक डीसी पंखा, एक डीसी पावर प्लग और 5 साल के लिए मरम्मत शामिल है।
  • ‘सौभाग्य योजना के तहत’ तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी मिलेगी।
  • केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगी|
  • अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी।

Pradhanmantri Saubhagya Yojana Apply details:

To ensure on-the-spot registration, mobile applications will be used. While free connections will be provided to below poverty line (BPL) households, even those not covered under this category can avail it by paying Rs 500 in 10 instalments of Rs 50 each along with their monthly bill.

For those household where the national electricity grid can’t reach, households will be provided with solar power packs along with battery banks. State-run Rural Electrification Corp. is the nodal agency for the scheme.

How will the beneficiaries be identified?

The beneficiaries for free electricity connections will be identified using Socio Economic and Caste Census (SECC) 2011 data.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *